HomeHindi News

Donald Trump’s First Speech In Hindi

Like Tweet Pin it Share Share Email

Donald Trump Speech In Hindi – राष्ट्रपति पद की शपथ Donald Trump Speech in Hindi : डोनाल्ड ट्रम्प ने आज अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली, यह शपथ उन्हें अमेरिका के चीफ जस्टिस ने  दिलाई | उनसे पहले शपथ लेने वालों में अमेरिका के उपराष्ट्रपति के लिए माइक पेंस ने शपथ ली | शपथ समारोह में वाइट हाउस पर लाखों अमेरिकी जनता मौजूद थी और इस समारोह में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ओबामा भी मौजूद थे | वहीँ कुछ अमेरिकी लोग इस समारोह का विरोध भी कर रहे थे हालाँकि इनकी तादाद २०० से ३०० के आस पास थी, यह पहले बार हुआ है की अमेरिका के राष्ट्रपति के शपथ समारोह में इस प्रकार विरोध हुआ है | समारोह वाशिंगटन में संपन्न हुआ |

राष्ट्रपति पद की शपथ के बाद बाद पहला भाषण : राष्ट्रपति पद की शपथ के बाद Donald Trump ने राष्ट्रपति के रूप में अपना पहला भाषण दिया जो करीब 20 मिनिट का था, शपथ के बाद अपनी पहली स्पीच में ट्रंप ने कहा- दुनिया भर के लोगों का धन्यवाद. हम अमेरिका के नागरिक आज एक बड़े राष्ट्रीय प्रयास से जुड़े हैं। हम लोगों के लिए एकजुट हुए हैं। हम लोग मिलकर ये निश्चय करेंगे कि कई वर्षों तक साथ रहेंगे. चुनौतियों का सामना करेंगे, इसके बावजूद अपने कार्य करने में सफल होंगे। हम चाहेंगे कि शांति भी रहे। हम आभारी हैं ओबामा और मिशेल ओबामा के जो यहां मौजूद रहे। उन्होंने काफी काम किया है। आज का जश्न बहुत खास है। आज सत्ता का परिवर्तिन एक से दूसरे पर नहीं जा रहा बल्कि आज से हम लोगों के हाथ में सत्ता दे रहे हैं। जो स्ट्रगल कर रहे हैं उनके लिए क्या कर सकते हैं। हम सभी इस बात को जानते हैं कि ये आपकी सरकार है. ये सत्ता जनता की है|

Donald Trump ने अपने भाषण में क्या कहा ? यहाँ कुछ मुख्या बातें है जो उन्होंने अपने भाषण में कही

1 . हम सत्ता को वाशिंगटन डी सी से वापिस जनता के बीच ला रहे है, यह आपका दिन है, यह आपकी सरकार है, यह जश्न भी आपका है और यह देश अमेरिका आपका देश है |

2. बातें बहूत हो चुकी अब बातें नहीं काम होगा |

3. हमारे देश की जिन लोगो को भुला दिया गया है अब उन्हें भुलाया नहीं जायेगा, इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता की सरकार किसकी है बल्कि इस बात से फर्क फाड़ता है की क्या देश पर देश के लोगो का नियंत्रण है या नहीं |

4. अमेरिका वापस से खड़ा होगा और इस प्रकार खड़ा होगा जैसा पहले कभी नहीं हुआ. हम एक जुट होंगे और हम इस्लामिक आतंकवाद को दुनिया से पूरी तरह ख़त्म कर देंगे |
5. उन्होंने राजनीती करने वालों को लताड़ लगते हुआ कहा की ” हमें बड़ा सोचना चाहिए और बड़े सपने देखने चाहिए. उन नेताओं को अब और बर्दाश्त नहीं किया जाएगा जो बोलते ज्यादा हैं और काम कम करते हैं |

6. हम मिलकर अमरीका को दोबारा महान बनाएंगे, हम अमरीका को दोबारा सम्पन्न और वैभवशाली बनाएंगे |

7. उन्होंने America First का नारा दिया, और कहा की आज से सिर्फ अमेरिका फर्स्ट के निति पर काम होगा |

8. अब हम अपना उत्पादन बढ़ाएंगे और अब हम अमेरिका को फिर से महान बनायेंगे

9. हमने दूसरे देशों के सीमाओं की सुरक्षा की लेकिन हम अपनी सीमाओं की रक्षा नहीं कर पाए|

10. युवा पीढ़ी ड्रग्स में बर्बाद हुई है इसे जड़ से ख़त्म करना है आज से अभी से |

11. हमारी आवाज हर घर में सुनी जाए। आज से हम एक नया विजन लेकर आगे आएंगे। सबसे पहले हम अमेरिका की सोचेंगे। चाहे वो इमिग्रेशन हो, व्यापार हो, कुछ भी हो सबसे पहले अमेरिका और अमेरिकियों के लोगों के हितों का ख्याल रखा जाएगा।

12. हमने ट्रिलियन डॉलर खर्च कर दिए, दूसरे देशों को अमीर बनाया लेकिन हमारा विश्वास कम हो गया हमारे कारखाने बंद होते चले गए, यहां तक कि जो लाखों अमेरिकन काम करने वाले थे वो पीछे रह गए| मिडिल क्लास इससे अत्यधिक प्रभावित हुआ| हमने जितनी दौलत थी उसे दुनिया को बांटा लेकिन अब इसे रोकना है

13. हम अपने रोजगार वापस लाएंगे, अपनी दौलत, अपने सपनों को फिर से वापस लाएंगे. अमेरिकी लोगों, अमेरिकी मजदूरों से इस देश को बनाएंगे। इस देश में अमेरिकी लोग योगदान देंगे। हम दूसरों के साथ भी संपर्क बनाएंगे लेकिन पहले अपना हित देखेंगे।

14. 2017 इस बात के लिए यादगार रहेगा कि इस दिन लोग इस राष्ट्र के पुनः शासक बन गए. हम एक राष्ट्र हैं और हम हर सपने को साकार करेंगे |

डोनाल्ड ट्रूम के शपथ के बाद कई देशो से प्रतिक्रिया आये है | जेद्दाह से एक पत्रकार ने कहा की उन्होंने मिडिल ईस्ट में ISIS की खात्मे की बात कही यहाँ ISIS ही मुख्य समस्या नहीं यहाँ और भी बहूत सी समस्याएं है उन्होंने उस पर कुछ नहीं कहा |

भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने ट्विटर पर tweet कर कह की वोह ट्रम्प के साथ काम करने के लिए उत्साहित है |

पूरी दुनिया अब अमेरिका की ओर देख रही है की अमेरिका की विदेश निति किस प्रकार काम करेगी, उन्होंने विदेश निति पर अधिक कुछ नहीं कहा |

Comments (0)

Leave a Reply